Naina-नैना compleet

Discover endless Hindi sex story and novels. Browse hindi sex stories, adult stories ,erotic stories. Visit skoda-avtoport.ru
raj..
Platinum Member
Posts: 3402
Joined: 10 Oct 2014 01:37

Re: Naina-नैना

Unread post by raj.. » 14 Dec 2014 08:15

नैना--पार्ट-18

गतान्क से आगे.......

थोड़ी देर यौंही खामोशी से टीवी देखती रही दोनो. टीवी पे रोमॅन्स सीन फुल

स्विंग पे था. दोनो गर्ल्स हॉट हो चुकी थी और बिल्कुल नेकेड भी. लड़का

सामने बैठा सब देख रहा है और अब कॅमरा से मूवी भी बना रहा है उन दोनो

लड़कियो की.

नैना: आंटी कोई और चॅनेल देखो?

आंटी: क्यो क्या हुआ पस्संद नही आ रहा?

नैना: नही ऐसी बात नही है. पसंद तो आ रहा है बट………

आंटी: बट क्या?

नैना: बट वो मुझे वेटनेस शुरू हो गयी है.

आंटी: ओह अच्छा तो यह बात है. तो इस मे चॅनेल चेंज करने वाली क्या बात?

हर जवान जिस्म ऐसे सीन दैख के असर पकड़ लेता है. और नैना के करीब हो गयी.

नैना: जी लैकेन मुझे अजीब लग रहा है.

आंटी: इट विल बी ऑल राइट और नैना का हाथ पकड़ लिया.

नैना: आप को भी हो रही है वेटनेस?

आंटी: हां ना. क्यो मैं औरत नही हूँ? मेरे जज़्बात नही हैं?

नैना: नही यह बात नही है. वो बस वेटनेस ज़्यादा हो रही है.

आंटी: गहरी साँस लेते हुए. आहह. मुझे भी. और और हाथ नैना के ब्रेस्ट्स पे ले गयीं.

नैना: आंटी यह ठीक नही है. हम दोनो?

आंटी: क्या ठीक नही है? सब ठीक है. मैं कॉन सी गैर हूँ. तुम्हारी अपनी

हूँ. और वेसे भी शान तुम्हारी प्यास तो भुजाते नही हैं. तो ऐसे ही सही.

और नैना के चीक्स पे किस कर दिया.

नैना: (काफ़ी ज़यादा वेट हो चुकी थी. आंटी ने उस का कॉन्फिडेन्स बिल्ट कर

दिया था वो आंटी से लिपट गयी) लव यू आंटी. थॅंक्स फॉर दिस केर ऑफ माइन.

और आंटी के होंटो पे होन्ट रख दिये.

आंटी: ओह नैना यू अरे सो स्वीट आंड सेक्सी. आइ लव यू.

नैना: थॅंक्स अहह आंटी. युवर लिप्स आर सो हॉट. मुहााआआआआ

आंटी: नैना कॅन आइ सी युवर ब्रेस्ट्स?

नैना: जी. आहह लव यू.

और नैना ने स्लोली अपनी कमीज़ उतार दी. उफ़फ्फ़ क्या जिस्म था. खूबसूरत

उभरे हुए दूध की तरह सफैद ब्रेस्ट्स ब्लॅक ब्रा के अंदर छुपे हुए.

आंटी: ओह नैना आइ वाज़ राइट तुम्हारे ब्रेस्ट्स तो बिल्कुल उसी तरह हैं

जो टीवी मे इस वक़्त चुदवा रही है. ओह लव यू और लिपट के नैना के होंटो को

सक करने लगी.

दोनो की आँखे क्लोज़ थी और ऐक दूसरे के होंटो को सक किये जा रही थी. आहह

आहह की आवाज़ों से महोले बहुत सेक्सी हो गया था.

नैना:आंटी आप की शर्ट तंग कर रही है. प्लीज़ इसे उतार दो. आहह

आंटी ने भी बिना देर किये अपनी शर्ट को जिस्म से अलहदा कर दिया. और ब्रा

को भी उतार के साइड पे रख दिया जिस से उन के 38 साइज़ के राउंड ब्रेस्ट्स

खुल के नैना के सामने आ गये.

नैना: ओह माइ गॉड. आंटी आप के ब्रेस्ट्स तो अभी भी बिल्कुल ऐक जवान लड़की

की तरहा हैं टाइट. आहह.

नैना ने भी अपनी ब्रा उतार के ऐक साइड पे रख दी और आंटी को बेड पे जाने

का कहा. दोनो उठ के बेड पे चली गयी और टीवी इसी तरहा ऑन छोड़ दिया. अब

दोनो को कोई परवाह नही थी कि टीवी पे कॉन किस की चुदाई कर रहा है. कॉन सी

लड़की ज़यादा सेक्सी या कॉन सा लड़का ज़यादा सेक्सी है. अब तो सिर्फ़ ऐक

ही सीन चल रहा था वो था नैना और आंटी का प्यार.

बेड पे आते ही आंटी ने नैना को नीचे लेटने का इशारा किया और खुद ऊपेर आ

के लेट गयीं. लेटने के साथ ही नैना के लिप्स पे अपने लिप्स रख दिये. आँखे

क्लोज़ कर के आंटी नैना के लिप्स को ऐसे सक कर रही थी जैसे नैना उन की

वाइफ हो और वो नैना का हज़्बेंड. नैना बिल्कुल मदहोश हो चुकी थी.

अगले ही लम्हे आंटी ने अपना राइट ब्रेस्ट हाथ मे लिया और निपल नैना के

लिप्स पे रख दिया.

आंटी: ओह मेरी नैना सक करो इन्हे. बहुत अरसे से तरसे हैं हैं यह

ब्रेस्ट्स किसी लिप्स के लिये.ओह मेरी सेक्सी नैना सक करो.

नैना ने आज तक किसी लड़की के ब्रेस्ट्स सक नही किये थे. बचपन मे अपनी मा

का दूध पीने के अलावा. नैना को थोड़ा अजीब सा लगा. और आंटी की आँखो मे

सवालिया नज़रों से देखने लगी.

आंटी ने भी आँखों ही आँखों मे बता दिया कि ट्राइ करो बहोत मज़ा है इस मे.

और अगले ही लम्हे नैना ने अपने दोनो हाथों मैं आंटी का ब्रेस्ट लिया और

सकिंग शुरू कर दी.

आंटी के मूँह से लंबी आहह निकल गयी और नैना के सिर को अपने ब्रेस्ट मे

दबाने लगी. नैना को यकीन नही था कि इस मे इतना ज़यादा मज़ा है. और नैना

का मज़ा बढ़ने लगा और वो ज़ोर ज़ोर से ब्रेस्ट्स दबा दबा के सक करने लगी.

होन्ट कभी राइट पे और कभी लेफ्ट पे ले जाती जिस से आंटी तड़प के रह जाती.

अगले ही लम्हे आंटी ने अपने ब्रेस्ट्स को नैना के लिप्स से दूर कर दिया.

नैना प्यासी नज़रों से आंटी की तरफ देखने लगी जैसे आंटी ने ठीक से प्यास

ना भुजने दी हो. आंटी ने मुस्करा कर नैना के ब्रेस्ट्स की तरफ दैखा और

आँखों ही आँखों मे बता दिया कि नैना के ब्रेस्ट्स कॉन सक करे गा अगर नैना

ही आज सकिंग करती रही. नैना भी फ़ौरन बात समझ गयी और आँखे बंद कर ली.

आंटी ने अपने होन्ट नैना के ब्रेस्ट्स पे रख दिये और निपल्स के राउंड

लिकिंग करने लगी. नैना आहह आंटी आहह. अहह लव यू. और आंटी के सिर को अपने

ब्रेस्ट्स पे प्रेस करने लगी. आंटी भी बहोत प्यार से दोनो ब्रेस्ट्स मे

अपने लिप्स की गर्मी डाल रही थी और नैना के ब्रेस्ट्स के बीच अपनी ज़बान

रखती तो नैना तड़प के अपने जिस्म को नीचे से ऊपेर उठा लैति.

आंटी ने ब्रेस्ट सकिंग छोड़ दी और उठ के बैठ गयीं. नैना ने फिर आंटी की

तरफ़ प्यासी नज़रों से दैखा जैसे आंटी उसे तरसा तरसा के प्यार दे रही

हों. लेकिन आंटी ने अगले ही लम्हे अपने ट्राउज़र को उतार दिया और बिल्कुल

नंगी हो गयी. आँखों ही आँखों मे नैना को भी इशारा कर दिया कि वो भी अपनी

भीगी हुई शलवार को उतार दे.

नैना और आंटी के बीच शरम के तमाम पर्दे हट चुके थे. नैना ने भी बिना किसी

शरम के अपनी शलवार को अपने जिस्म से अलहदा कर दिया और बिल्कुल नंगी हो

गयी.

आंटी: उफफफफफफफफफफफफफफफफ्फ़ नैना क्या चूत है तुम्हारी. कब साफ की थी?

नैना: यही कोई दो दिन पहले. आप ने?

आंटी: आज ही. यह ले दैख ले.

नैना ने अपनी लाइफ मे ऐसे किसी लड़की की चूत नही देखी थी. सिर्फ़ फिल्म्स

मे देखने के एलॉवा. नैना के सामने आंटी अपनी लेग्स ओपन कर के लेट गयीं और

नैना आंटी की साफ सुथरी चूत को देखने लगी. आंटी की चूत साइज़ मे नैना की

चूत से थोड़ी बड़ी थी और फूली भी हुई थी. रंग थोड़ा डार्क था लिप्स का.

पूरी चूत वेट हो रही थी गर्मी की वजा से. आंटी ने नैना का हाथ पकड़ा और

अपनी चूत पे रखा और आँखों ही आँखों मे बता दिया कि इसे प्यार करे.

नैना आंटी का इशारा फ़ौरन ही समझ गयी और दोनो करवट ले कर ऐक दूसरे की तरफ

मूँह कर के लेट गयीं. नैना ने अपना हाथ सीधा आंटी की चूत पे रखा और आंटी

ने अपना हाथ नैना की चूत पे.

अब आंटी नैना की चूत और नैना आंटी की चूत को मसल रही थी. और ऊपेर से दोनो

ऐक दूसरे को किस्सिंग कर रही थी. नैना कभी आंटी को प्यार से लव यू बोलती

और कभी आंटी नैना को मेरी जान मेरी जान कह के बुलाती.

अगले 5 मिनट तक यौंही किस्सिंग और चूत रब्बिंग का सिलसिला जारी रहा और

पूरे रूम मे लव यू, मेरी जान , आहह आहह की आवाज़े आती रही.

आंटी के लिये यह खैल फर्स्ट टाइम नही था. वो पहले भी कयी दफ़ा लेसबो

सेक्स कर चुकी थी. उधर नैना के लिये आज फर्स्ट एक्सपीरियेन्स था और आंटी

यह बात बहोत अच्छी तराहा से जानती थी.

आंटी ने नैना को उल्टा लेटने को कहा. नैना भी फ़ौरन उलटा लेट गयी ऐसे

जैसे आंटी ने उस के दिमाग़ को काबू कर लिया हो. यह ऐसी स्टेज थी कि आंटी

अगर उसे स्यूयिसाइड करने का कहती तो शायद नैना वो भी कर जाती. उल्टा

लेट.ते ही नैना के भरे हुए खूबसूरत हिप्स आंटी के सामने आ गये.

आंटी ने अंदाज़ा लगाया कि नैना के हिप्स उस की सहेली की हिप्स से थोड़े

छोटे थे जिस से वो लेसबो सेक्स किया करती थी. लेकिन यह भी आइडिया लगे कि

नैना के हिप्स की शेप उस की सहेली के हिप्स की शेप से ज़्यादा प्यारी थी

और नैना के ऊपेर लेग्स फैला के लेट गयी जिस से नैना के हिप्स पे आंटी की

चूत रब होने लगी.

नैना: आहह आंटी आप की चूत का अहह पानी आहह मेरे हिप्स मे अहह जा रहा है. अहह

आंटी: हां मेरी जान. और नैना की पूरी कमर पे किस्सिंग करने लगी. आंटी को

आइडिया था कि नैना का जिस्म इस वक़्त बहोत प्यासा है और अगर नैना को पूरी

रात भी प्यार करती रही तो नैना प्यार लेती रहे गी.

अभी तक आंटी ऐक दफ़ा रिलीस हो चुकी थी और उन्हे यकीन था कि अगर वो ऐक

दफ़ा रिलीस हो चुकी हैं तो नैना कम आज़ कम 2 दफ़ा तो ज़रूर रिलीस हुई हो

गी. और नैना के कान मे पूछ लिया. कितनी दफ़ा पानी निकाल चुकी है मेरी जान

की चूत?

नैना: आहह आंटी 2 दफ़ा.

आंटी: मज़ा आ रहा है मेरी नैना को?

नैना: आहह आंटी जी बहोत ज़यादा. आहह आप को?

आंटी: हां मेरी जान बहोत ज़यादा. लव यू मेरी जान. और नैना के हिप्स के

अंदर फिंगर मूव करना शुरू कर दी.

नैना को अपने हिप्स मे आंटी की फिंगर बहोत सकून दे रही थी. और नैना हिप्स

उठा उठा के जवाब दे रही थी. आंटी भी नैना के हिप्स पे लिकिंग और किस्सिंग

कर रही थी. नैना जितना उस के बस मे था उतनी ज़्यादा लेग्स फैला के उल्टा

लेटी हुई थी उस की चूत बॅक से साफ दिख रही थी.

क्रमशः..........

naina--paart-18

gataank se aage.......

Thori dair youn hi khamoshi say tv daikhti rahien dono. Tv pay romance

scene full swing pay tha. Dono girls hot ho chuki thien aur bilkul

naked bhi. Larka samnay baitha sab daikh raha hay aur ab camera say

movie bhi bana raha hay un dono larkion ki.

Naina: Aunty koi aur channel daikhain?

Aunty: Kiun kia hua passand nahi aa raha?

Naina: Nahi aisi baat nahi hay. Pasand to aa raha hay but………

Aunty: But kia?

Naina: but wo mujhay wetness shuru ho gayee hay.

Aunty: Oh acha to yeh baat hay. To is main channel change karnay wali

kia baat? Har jawan jism aisay scene daikh k asar pakar laita hay. Aur

naina k kareeb ho gayee.

Naina: Ji laiken mujhay ajeeb lag raha hay.

Aunty: It will b all right aur naina ka hath pakar lia.

Naina: Aap ko bhi ho rahi hay wetness?

Aunty: Haan na. Kiun main aurat nahi hoon? Meray jazbat nahi hain?

Naina: Nahi yeh baat nahi hay. Wo bus wetness zayda ho rahi hay.

Aunty: Gehri saans laitay huay. Aahhhhhhhhhh. Mujhay bhi. Aur aur hath

naina k breasts pay lay gayeen.

Naina: Aunty yeh theek nahi hay. Hum dono?

Aunty: Kia theek nahi hay? Sab theek hay. Main kon sa ghair hoon.

Tumhari apni hoon. Aur wesay bhi shaan tumhari payas to bhujatay nahi

hain. To aisay hi sahee. Aur Naina k cheeks pay kiss kar dia.

Naina: (Kafi zayada wet ho chuki thi. Aunty nay us ka confidence built

kar dia tha wo aunty say lipat gayee) Love you aunty. Thanks for this

care of mine. Aur aunty k honto pay hont rakh diay.

Aunty: Oh naina you are so sweet and sexy. I love you.

Naina: Thanx ahhhhhh aunty. Your lips are so hot. Muhaaaaaaaaaaaa

Aunty: Naina Can I see your breasts?

Naina: Ji. Aahhhhhhhhhhh Love you.

Aur naina nay slowly apni kameez utar di. Ufff kia jism tha.

Khoobsoorat ubharay huay doodh ki tarah safaid breasts black bra k

andar chupay huay.

Aunty: Oh naina I was right tumharay breasts to bilkul usi tarah hain

jo tv main is waqt chudwa rahi hay. Oh love you aur lipat k naina k

honto ko suck karnay lagi.

Dono ki eyes close thien aur aik doosray k honto ko suck kiay ja rahi

thien. Aahhh Aahh ki awazon say mahole mazid sexy ho gaya tha.

Naina:Aunty Aap ki shirt tang kar rahi hay. Please isay utar dain. Aahhhhhhhh

Aunty nay bhi bina dair kiay apni shirt ko jism say alehda kar dia.

Aur bra ko bhi utar k side pay rakh dia jis say un k 38 size k round

breasts khul k naina k samnay aa gaye.

Naina: Oh my God. Aunty aap k breasts to abhi bhi bilkul aik jawan

larki ki tarha hain tight. Aahhhhhhhhhhhhhhhhh.

Naina nay bhi apni bra utar k aik side pay rakh di aur aunty ko bed

pay janay ka kaha. Dono uth k bed pay chali gayen aur tv isi tarha on

chore dia. Ab dono ko koi parwah nahi thi k tv pay kon kis ki chudai

kar raha hay. Kon c larki zayada sexy ya kon sa larka zayada sexy hay.

Ab to sirf aik he scene chal raha tha wo tha naina aur aunty ka payar.

Bed pay atay hi aunty nay naina ko neechay laitnay ka ishara kia aur

khud ooper aa k lait gayeen. Lait.tay saath hi naina k lips pay apnay

lips rakh diay. Eyes close kar k aunty naina k lips ko aisay suck kar

rahi thien jaisay naina un ki wife ho aur wo naina ka husband. Naina

bilkul madhosh ho chuki thi.

Agaly hi lamhay aunty nay apna right breast hath mai lia aur nipple

naina k lips pay rakh dia.

Aunty: Oh meri naina suck karo inhain. Bahot arsay say tarsay hain

hain yeh breasts kisi lips k liay.Oh meri sexy naina suck karo.

Naina nay aaj tak kisi larki k breasts suck nahi kiay thay. Bachpan

mai apni maa ka doodh peenay k elawa. Naina ko thora ajeeb sa laga.

Aur aunty ki ankho main sawalia nazron say daikhnay lagi.

Aunty nay bhi ankhon hi ankhon mai bata dia k try karo bahot maza hay

is main. Aur aglay hi lamhay naina nay apnay dono hathon main aunty ka

breast lia aur sucking shuru kar di.

Aunty k moon say lambhi aahhhhhhhhh nikal gayee aur naina k sir ko

apnay breast mai dabanay lagi. Naina ko yakeen nahi tha k is mai itna

zayada maza hay. Aur naina ka maza barhnay laga aur wo zore zore say

breasts daba daba k suck karnay lagi. Hont kabhi right pay aur kabhi

left pay le jaati jis say aunty tarap k reh jaatien.

Aglay hi lamhay aunty nay apnay breasts ko naina k lips say door kar

dia. Naina payasi nazaron say aunty ki taraf daikhnay lagi jaisay

aunty nay theek say payas na bhujnay di ho. Aunty nay muskra kar naina

k breasts ki taraf daikha aur ankhon hi ankhon mai bata dia k naina k

breasts kon suck karay ga agar naina hi aaj sucking karti rahi. Naina

bhi fauran baat samaj gayee aur eyes band kar dien.

Aunty nay apnay hont naina k breasts pay rakh diay aur nipples k round

licking karnay lagien. Naina aahhhhhh aunty aahhhhhhhhhhhh.

Ahhhhhhhhhhhh love you. Aur aunty k sir ko apnay breasts pay press

karnay lagi. Aunty bhi bahot payar say dono breasts main apnay lips ki

garmi daal rahi thien aur naina k breasts k darmayan apni zaban

rakhtien to naina tarap k apnay jism ko neechay say ooper utha laiti.

Aunty nay breast sucking chore di aur uth k baith gayeen. Naina nay

phir aunty ki tarf payasi nazron say daikha jaisay aunty usay tarsa

tarsa k payar day rahi hon. Laiken aunty nay aglay hi lamhay apnay

trouser ko utar dia aur bilkul nangi ho gayee. Ankhon hi ankhon mai

naina ko bhi ishara kar dia k wo bhi apni bheegi hui shalwar ko utar

day.

Naina aur aunty k darmayan sharam k tamam parday hut chukay thay.

Naina nay bhi bila kisi sharam kiay apni shalwar ko apnay jism say

alehda kar dia aur bilkul nangi ho gayee.

Aunty: Ufffffffffffffffff naina kia choot hay tumhari. Kab saaf ki thi?

Naina: Yehi koi do din pehlay. Aaap nay?

Aunty: Aaj hi. Yeh le daikh lay.

Naina nay apni life mai aisay kisi larki ki choot nahi daikhi thi.

Sirf films mai daikhnay k elawa. Naina k samnay aunty apni legs open

kar k lait gayeen aur naina aunty ko saaf suthri choot ko daikhnay

lagi. Aunty ko choot size mai naina ki choot say thori bari thi aur

phooli bhi hui thi. Rang thora dark tha lips ka. Poori choot wet ho

rahi thi garmi ki waja say. Aunty nay naina ka hath pakra aur apni

choot pay rakh aur ankhon hi ankhon mai bata dia k isay payar karay.

Naina aunty ka ishara fauran hi samaj gayee aur dono karwat lay kar

aik doosray ki taraf moon kar k lait gayeen. Naina nay apna hath

seedha aunty ki choot pay rakha aur aunty nay apna haath naina ki

choot pay.

Ab aunty naina ki choot aur naina aunty ki choot ko masal rahi thi.

Aur ooper say dono aik doosray ko kissing kar rahi thien. Naina kabhi

aunty ko payar say love you bolti aur kabhi aunty naina ko meri jaan

meri jaan keh k bulatien.

Aglay 5 min tak youn hi kissing aur choot rubbing ka silsila jari raha

aur pooray room main love you, meri jaan , aahhhhhhhhhhh aahhhhhhhhhh

ki awazain aati rahien.

Aunty k liay yeh khail first time nahi tha. Wo pehlay bhi kayee dafa

lesbo sex kar chuki thien. Naina k liay aaj first experience tha aur

aunty yeh baat bahot achi taraha say janti thien.

Aunty nay naina ko ulta laitnay ko kaha. Naina bhi fauran ulata lait

gayee aisay jaisay aunty nay us k demagh ko kaaboo kar lia ho. Yeh

aisi stage thi k aunty agar usay suicide karnay ka kehtien to shaid

naina wo bhi kar jati. Ulta lait.tay hi naina k bharay huay

khoobsoorat hips aunty k samnay aa gayee.

Aunty nay andaza lagaya k naina k hips us ki sahaili ki hips say

thoray chotay thay jis say wo lesbo sex kia karti thi. Laiken yeh bhi

idea lagay k naina k hips ki shape us ki sahaili k hips ki shape say

zayada payari thi aur naina k ooper legs phaila k lait gayee jis say

naina k hips pay aunty ki choot rub honay lagi.

Naina: Aahhhhhhhhh aunty aap ki choot ka ahhhhhhhhh pani aahhhhhhh

meray hips mai ahhhhhhhhhhhhh jaa raha hay. Ahhhhhhhhhhhh

Aunty: Haan meri jaan. Aur naina ki poori kamar pay kissing karnay

lagien. Aunty ko idea tha k naina ka jism is waqt bahot payasa hay aur

agar naina ko poori raat bhi payar karti rahi to naina payar laiti

rahay gi.

Abhi tak aunty aik dafa release ho chuki thien aur unhain yakeen tha k

agar wo aik dafa release ho chuki hain to naina kam az kam 2 dafa to

zaroor release hui ho gi. Aur naina k kaan mai pooch lia. Kitni dafa

paani nikal chuki hay meri jaan ki choot?

Naina: Aahhhhhhhhhhh aunty 2 dafa.

Aunty: Maza aa raha hay meri naina ko?

Naina: Aahhhhhhhhhh aunty ji bahot zayada. Aahhhhhhhhhhh aap ko?

Aunty: Haan meri jaan bahot zayada. Love you meri jaan. Aur naina k

hips k andar finger move karma shuru kar di.

Naina ko apnay hips mai aunty ki finger bahot sakoon day rahi thi. Aur

naina hips utha utha k jawab day rahi thi. Aunty bhi naina k hips pay

licking aur kissing kar rahi thien. Naina jitna us k bus mai tha utni

zayada legs phaila k ulta laiti hui thi us ki choot back say saaf dikh

rahi thi.

kramashah..........


raj..
Platinum Member
Posts: 3402
Joined: 10 Oct 2014 01:37

Re: Naina-नैना

Unread post by raj.. » 14 Dec 2014 08:17

नैना--पार्ट-19

गतान्क से आगे.......

आंटी ने महसूस किया कि नैना की चूत की वेटनेस की वजा से पूरी बेडशीट भी

भीग चुकी थी. और बेड शीट को देखते देखते आंटी की नज़र नैना की नर्म और

वेट चूत पे पड़ी और आंटी ने बिना देर किये अपनी फिंगर बॅक से ही चूत मे

डाल दी.

नैना: ओह आंटी. आहह. इस दफ़ा नैना की आवाज़ मे मस्ती कुछ ज़यादा ही थी.

और अपने सिर को तकिये के ऊपर इधर उधर करने लगी जैसे उस की जान निकली जा

रही हो.

आंटी ने नैना को सीधा लिटा दिया और नैना के ऊपेर 69 की पोज़िशन मे आ

गयीं. और 69 पोज़िशन मे आते ही आंटी ने नैना की चूत पे अपनी ज़बान रख दी.

नैना: अहह आंटी नही

प्लज़्ज़्ज़्ज़्ज़्ज़्ज़्ज़्ज़्ज़्ज़्ज़्ज़्ज़्ज़्ज़्ज़्ज़्ज़्ज़्ज़्ज़्ज़्ज़.

अहह इट्स तूऊऊओ होत्त्त्टटटटतत्त. अहह

आंटी: इट्स फॉर यू मेरी जान. अहह. डू दा सेम विथ मी. अहह लव यू.

नैना के लिये सब कुछ बिल्कुल नया था. नैना आँखे क्लोज़ कर के मज़ा ले रही

थी कि नैना की गर्दन पे कुछ ड्रॉप्स गिरे. नैना ने आँखे ओपन की तो नैना

के फेस के सामने आंटी की वेट चूत थी. तब नैना को पता चला कि आंटी उस के

ऊपेर किस पोज़िशन मे हैं. नैना अब तक इतनी ज़यादा मस्त थी कि उसे कुछ पता

नही चल रहा था बस प्यार के एलॉवा.

नैना की हिम्मत नही पड़ रही थी आंटी की वेट चूत पे अपनी जीब रखने की.

क्योकि उस ने आज तक कभी ऐसा नही किया था. जब कि दूसरी तरफ आंटी नैना की

चूत पे जीब डाल के मूव कर रही थी.

नैना के मूँह से ना चाहते हुए भी आहह आहह की आवाज़े निकली जा रही थी और

आँख थी कि खुलने का नाम नही ले रही थी.

इस से पहले नैना कुछ और सोचती. आंटी ने अपनी चूत को नैन के लिप्स पे खुद

ही रख दिया. आंटी भी अब कंट्रोल से बाहर हो गयीं थी और बहोत ही ज़यादा

गर्म भी. नैना के पास और कोई चारा नही था सिवाय आंटी की चूत लिक्क करने

के और हिम्मत कर के अपनी जीब चूत पे रख ही दी.

आंटी: अहह. और चूत को नैना के लिप्स पे दबा दिया. आहह की आवाज़ के फ़ौरन

बाद अपने लिप्स नैना की चूत पे रख दिये. जिस से नैना की आहह की आवाज़

आंटी की चूत मे ही समा गयी.

दोनो का चूत चूसने का खैल अगले 5 मिनट तक जारी रहा और नैना की चूत से

3र्ड टाइम और आंटी की चूत से 2न्ड टाइम थिक पानी की नदियाँ बह गयी और

दोनो इसी हालत मे खामोश लेट गयीं.

5 मिनट यौं ही लेटने के बाद नैना को आंटी का वज़न अपने ऊपेर फील होने

लगा. आंटी ने इस बात को फील कर लिया और नैना के ऊपेर से उतर के नैना के

साथ आ के लेट गयी और नैना से लिपट गयी.

दोनो मे से किसी की हिम्मत नही हो रही थी उठने की और वॉशरूम जाने की. बस

यौं ही आँखे क्लोज़ कर के दोनो लेट गयीं.

थोड़ी देर बाद नैना की आँख खुली तो सुबह के 5 बज रहे थे. उसे पता ही नही

चला था कि लेटे लेटे वोकब सो गयीं थी और उन्हे सोए हुए भी 3 घंटे हो चुके

थे. नैना ने अपने और आंटी की तरफ़ ऐक नज़र डाली. आंटी दूसरी तरफ़ मूँह कर

के सो रही थी और उन की कमर नैना की तरफ़ थी. नैना ने आंटी की कमर पे

प्यार से ऐक किस किया जेसे आंटी का शुक्रिया अदा कर रही हो रात के प्यार

के लिये. देन उस की नज़र आंटी के राउंड मोटे हिप्स पे पड़ी. नैना को बहोत

प्यार आया उन पे भी और उन पे भी प्यार से हाथ मूव कर के वॉशरूम चली गयी.

वॉशरूम जा के नैना ने अपनी चूत और अपनी लेग को गौर से दैखा. उसकी वेथनेस

अब ड्राइ हो गयी थी और पूरी चूत और जाँघो पे जम के वाइट सी हो गयी थी

सख़्त सी. फिर नैना को एहसास हुआ कि रात को वो कितनी ज़्यादा वेट हो गयी

थी. फिर नैना ने बाथ लिया और बातरूम मे लटके नाइट ड्रेस को पहन कर आ गयी

और आंटी के साथ लेट गयी.

लेट के नैना रात के हुए वासना के खेल के बारे मे सोचने लगी और आइडिया

लगाया कि कोई 3 से 4 मंत बाद उस ने इस एक्सट्रीम लेवेल की एज्युक्युलेशन

की थी. क्रेडिट गोस टू आंटी जी. फिर यह दिमाग़ मे आया कि आंटी उस के बारे

मे क्या सोचती हों गी कि केसे मैं सारे कपड़े उतार के उन के सामने नंगी

हो गयी. फिर नज़र आंटी के नंगे बदन पे पड़ी तो यही रिज़ल्ट लिया कि नही

आंटी ने क्या सोचना है वो भी तो पूरी नंगी हैं उस के सामने.

सोचते सोचते उसे नींद आ गयी. दोबारा आँख खुली तो दैखा आंटी बेड पे नही थी

और कमरा सूरज की रोशनी से रोशन होया हुआ था. सुबह के 8 बज रहे थे. नैना

फ़ौरन बेड से उठी और वॉशरूम मे दैखा आंटी नही थी, देन टीवी लाउंज, वहाँ

भी आंटी नही थी. नैना घबरा सी गयी कि आंटी कहाँ गयीं दौड़ती हुई किचन मे

गयी मगर वहाँ भी आंटी ना दिखी. किचन मे से ही बाहर सहन मे नज़र डाली मगर

वहाँ पे भी आंटी ना नज़र आईं. नैना ऐक दम परेशान हो गयी क्योकि गेट का

मेन दरवाज़ा भी खुला हुआ था. दौड़ती हुई गेट के पास पहॉंची तो पता चला

आंटी बाहर दूध ले रही थी दूध वाले से. नैना का जैसे खोया हुआ साँस वापिस

आ गया.

आंटी अंदर आईं तो नैना ने उन्हे कहा कि आप ने तो मुझे डरा ही दिया था.

आंटी ने कहा कि मैं खुद गयी थी ताकि दूध वाले को कह दूं कि कल से साथ

वाले घर मे भी दूध दे जाया करे और उसी से वोही बात कर रही थी.

नैना को आंटी ने उल्हाहना दिया कि तुम ने अकेले अकेले कपड़े पहन लिये और

मुझे ऐसे ही नंगा छोड़ दिया बेड पे. मेरी आँख खुली तो जनाब साहिबा सकून

से ड्रेस पहन के सो रही थी और मैं ऐसे ही नेकेड.

नैना ने कहा वो आप सो रही थी तो आप को उठाना मुनासिब नही समझा थ्ट्स वाइ.

खैर आंटी ने उसे आँख मारी और कहा कि मज़ा आया था? जिस पे नैना ने शर्मा

के हां मे सिर हिला दिया और किचन मे चली गयी.

इतने मे फोन बेल बजी. नैना ने दौड़ते हुए फोन उठाया तो दूसरी तरफ़ जिम्मी

था फोन पे.

जिम्मी: हेलो जी गुड मॉर्निंग

नैना: गुड मॉर्निंग हाउ आर यू?

जिम्मी: फाइन. मोम कहाँ हैं?

नैना: आइ गैस ही ईज़ इन वॉशरूम.

जिम्मी: लगता है मोम का आने का कोई मूड नही है. मोम को आप से प्यार हो

गया है शायद? हहहे

नैना: हां हो गया है. तुम क्यो जेलौस हो रहे हो?

जिम्मी: क्यो ना हूँ. मेरी जगह मोम ने ले ली.

नैना: व्हातत्तटटटटटटटटटटटटटटतत्त?

जिम्मी: व्हाट क्या मेरी जगह ले ली मोम ने. मुझे भी आप से प्यार हो गया है.

नैना: (बात बदलते हुए) नाश्ता कर लिया?

जिम्मी: हाए दिल की बात कह दी आप ने. इसी लिये तो फोन किया था कि मोम का

क्या सीन है?

नैना: मोम तो यहाँ ही ब्रेकफास्ट करेंगी. ऐसे करो तुम भी यहाँ ही आ जाओ.

जिम्मी: म्‍म्म्मममममममममममम. पहले मोम से बात कर लूँ फिर बताता हूँ.

नैना: मोम से बात भी यहाँ ही आकर लो. ओके आ जाओ मैं ब्रेकफास्ट बना रही हूँ फॉर यू.

जिम्मी इस से पहले कुछ कहता नैना ने फोन रख दिया.

फोन रख के नैना किचन मे चली गयी और साथ ही आंटी भी किचन मे आ गयीं. नैना

ने आंटी को बता दिया उस ने जिम्मी को भी यहीं बुला लिया है फॉर

ब्रेकफास्ट जिस पे आंटी ने नाराज़गी का इज़हार किया कि यह बात ठीक नही

है.

खैर जिम्मी भी आ गया और देन सब ने मिल के ब्रेकफास्ट किया और देन जिम्मी

और आंटी अपने घर चले गये और नैना घर के काम काज मे मसरूफ़ हो गयी.

घर के तमाम काम ख़तम करने के बाद नैना ने टाइम दैखा दोपेहर के 12 बज रहे

थे. आज सुबह से शान ने भी कोई फोन नही किया था. नैना ने सोचा शान की खैर

ख़ैरियत पता कर ली जाए. फोन उठे और शान को कॉल की.

शान: हेलो नैना केसी रही रात अकेले?

नैना: अकेली तो नही थी.

शान: शक भरी आवाज़ मे. तो कौन था साथ तुम्हारे?

नैना: आंटी को बुला लिया था मैं ने साथ से. आप को पता है अकेले मुझ से

केसे रात गुज़रती?

शान: ओह प्ल्ज़ नैना अब रात गुज़ारना सीखो अकेले कॉज़ अब मुझे वीक मे ऐक

या दो दिन नाइट टाइम काम करना पड़े गा.

नैना: ओके कर लूँगी. और आप की रात केसी गुज़री?

शान: बहुत काम था सारी रात करते रहे अभी भी नींद से बुरा हाल है.

नैना: तो घर आ जाओ ना? आराम कर लो.

शान: नही अब छुट्टी कर के ही आउन्गा ऐक ही दफ़ा. कुछ मंगवाना है बाज़ार

से तो मुझे एसएमएस कर देना मैं लेता आउन्गा.

नैना: ओके टेक केर.

शान: टेक केर और फोन बंद.

नैना देन टीवी लाउंज मे आ गयी और शान के बारे मे सोचने लगी कि शान उस के

साथ ऐसा क्यो कर रहे हैं? क्या वो खूबसूरत नही है? क्या वो सेक्षुयल

कमज़ोर है? क्या शान का उस से दिल भर गया है? या उस लड़की ने शान को अपने

जाल मे फँसा लिया है?

अभी यही सोच रही थी कि आंटी की कॉल आ गयी कि वो बाज़ार तक जा रही हैं कुछ

शॉपिंग करने और इफ़ नैना जाना चाहती है तो रेडी हो जाए. पहले तो नैना ने

सोचा कि नही जाती कि शान क्या कहेंगे फिर यह सोच कर जाने की हामी भर ली

कि शान को कौन सा फ़र्क़ पड़ता है वो जिये या मरे और देन हां कर दी.

थोड़ी देर मे दोनो रेडी हो कर बाज़ार शॉपिंग करने चली गयीं. शॉपिंग करते

करते 2 बज गये और नैना को भूक लगने लगी. आंटी ने भी भूक का इज़हार किया

और दोनो ऐक फास्ट फुड मे लंच करने चली गयीं.

वहाँ पे दोनो ने इकट्ठा लंच किया और लंच कर के जेसे ही दोनो फास्ट फुड से

बाहर आईं आगे से शान उसी लड़की के साथ फास्ट फुड के अंदर दाखिल हो रहे

थे. शान की नज़र नैना पे पर गयी और नैना ने भी शान को दैख लिया. शान की

शकल से कन्फ्यूषन क्लियर दिख रही थी क्योकि शान के हाथ मे उस लड़की का

हाथ था और नैना ने दोनो को उसी पोज़िशन मे दैख लिया था.

आंटी ने नैना का कुछ ना बोलने का कहा और खामोशी से आगे चल दिये. नैना को

ऐक बात तो कन्फर्म हो गयी कि उस लड़की ने नैना को नही दैखा हुआ था वरना

वो भी फ़ौरन उसे पहचान जाती. नैना गुस्से से जा के गाड़ी मे आंटी के साथ

बैठ गयी और रोने लगी.

आंटी ने उसे समझाया कि यह मुनासिब जगह नही है. घर जा के आराम से बात कर

लेना शान से और गाड़ी ले कर चल दी. घर पहुचते ही नैना ने रो रो के बुरा

हाल कर दिया. आंटी ने मुनासिब नही समझा उन के आपस के मामलात मे इंटरफेर

करना इसी लिये वो नैना के घर नही आइ.

नैना अभी रो रो के बेड पे लेटी ही थी कि डोर बेल हुई. नैन ने अपने फेस को

ठीक किया और जा के डोर ओपन किया तो हैरान हो गयी. बाहर शान खड़े थे जो कि

बहोत गुस्से मे दिख रहे थे.

दरवाज़ा बंद करते ही नैना पे बरस पड़े. तुम्हे शरम नही आती मेरी इजाज़त

के बगैर तुम बाहर क्यो निकली? तुम्हे किस ने कहा कि तुम इस तरहा फास्ट

फुड्स और बाज़ार मे घूमती फ़िरो. तुम्हे अपने हज़्बेंड की इज़्ज़त का कोई

ख़याल नही है? लानत है ऐसी वाइफ पे जो अपने हज़्बेंड की गैर हाजरी मे

बाज़ारों मे घूमती है. पता नही और क्या क्या गुल खिलाए हों गे मेरी गैर

मौजूदगी मे.

इस बात पे नैना को सख़्त गुस्सा आ गया और वो शान पे बरस पड़ी कि वो जो

लड़की आप के साथ थी वो क्या उस के साथ लंच कर के आप को शरम नही आइ? उस के

साथ रात गुज़ार के शरम नही आइ? बस इतना ही कहना था कि शान ने नैना के गाल

पे ज़ोर का चांटा रसीद कर दिया और गुस्से से ज़ोर से गेट बंद कर के गाड़ी

स्टार्ट कर के चले गये.

क्रमशः..........

naina--paart-19

gataank se aage.......

Aunty nay mehsoos kia k naina ki choot ki wetness ki waja say poori

bedsheet bhi bheeg chuki thi. Aur bed sheet ko daikhtay daikhtay aunty

ki nazar naina ki narm aur wet choot pay pari aur aunty nay bina dair

kiay apni finger back say hi choot mai daal di.

Naina: Ohhhhhhhhhhhhhhhhhhh aunty. Aahhhhhhhhhhhhhhhhhhhhhhhhhhhh. Is

dafa naina ki awaz mai masti kuch zayada hi thi. Aur apnay sir ko

takiay k oooper idhar udhar karnay lagi jaisay us ki jaan nikali ja

rahi ho.

Aunty nay naina ko seedha laita dia aur naina k ooper 69 ki position

mai aa gayeen. Aur 69 position mai aatay hi aunty nay naina ki choot

pay apni zaban rakh di.

Naina: Ahhhhhhhhhhhhhhhhhhhhhhhhh aunty nahi

plzzzzzzzzzzzzzzzzzzzzzzzz. Ahhhhhhhhhhhhhhhhhhhhhhhhhhhhhhh Its

tooooooo Hotttttttttt. Ahhhhhhhhhhh

Aunty: Its for you meri jaan. Ahhhhhhhhhhhhhhhhhhhhhhhhhhh. Do the

same with me. Ahhhhhhhhhhhhhhhhhhhhhh love you.

Naina k liay sab kuch bilkul naya tha. Naina eyes close kar k maza lai

rahi thi k naina ki neck pay kuch drops giray. Naina nay eyes open

kien to naina k face k samnay aunty ko wet choot thi. Tab naina ko

pata chala k aunty us k ooper kis position mai hain. Naina ab tak itni

zayada mast thi k usay kuch pata nahi chal raha tha bus payar k elawa.

Naina ki himat nahi par rahi thi aunty ki wet choot pay apni toungue

rakhnay ki. Kiun k us nay aaj tak kabhi aisa nahi kia tha. Jab k

doosri taraf aunty naina ki choot pay tounge daal k move kar rahi

thien.

Naina k moon say na chahtay huay bhi aahhhhhhhhhhh aahhhhhhhhhhh ki

awazain nikali ja rahi thien aur eyes thien k khulnay k naam nahi le

rahi thien.

Is say pehlay naina kuch aur sochti. Aunty nay apni choot ko nain k

lips pay khud hi rakh dia. Aunty bhi ab control say bahir ho gayeen

thien aur bahot hi zayada garm bhi. Naina k pass aur koi chara nahi

tha siwai aunty ki choot lick karnay k aur himat kar k apni tounge

choot pay rakh hi di.

Auny: Ahhhhhhhhhhhhhhhhhhhhhhhhh. Aur choot ko naina k lips pay daba

dia. Aahhhhhhhhhhhhhhh ki awaz k fauran baad apnay lips naina ki choot

pay rakh diay. Jis say naina ki Aahhhhhhhhhhhh ki awaz aunty ki choot

mai hi sama gayee.

Dono ka choot licking ka khail aglay 5 min tak jari raha aur Naina ki

choot say 3rd time aur aunty ki choot say 2nd time thick paani ki

naddia beh gayee aur dono isi halat main khamosh lait gayeen.

5 Min youn hi laitnay k baad naina ko aunty ka wazan apnay ooper feel

honay laga. Aunty nay is baat ko feel kar lia aur naina k ooper say

utar k naina k saath aa k lait gayee aur naina say lipat gayee.

Dono mai say kisi ki himat nahi ho rahi thi uthnay ki aur washroom

janay ki. Bus youn hi eyes close kar k dono lait gayeen.

Thori dair baad naina ki aankh khuli to Subha k 5 baj rahay thay. Usay

pata hi nahi chala tha k laitay laitay wo so gayeen thien aur unhain

soye huay bhi 3 ghantay ho chukay thay. Naina nay apnay aur aunty ki

tarf aik nazar daali. Aunty doosri tarf moon kar k so rahi thien aur

un ki kamar naina ki tarf thi. Naina nay aunty ki kamar pay payar say

aik kiss kia jesay aunty ka shukria ada kar rahi ho raat k payar k

liay. Then us ki nazar aunty k round motay hips pay pari. Naina ko

bahot payar aya un pay bhi aur un pay bhi payar say hath move kar k

washroom chali gayee.

Washroom ja ke naina nay apni choot aur apni leg ko ghaur say daikha.

Uski wetnes ab dry ho gayee thi aur poori choot aur thies pay jam k

white c ho gayee thi sakht c. Phir naina ko ehsas hua k raat ko wo

kitni zyada wet ho gayee thi. Phir naina nay bath lia aur bathroom

main latkay night dress ko pehn kar aa gayee aur aunty k saath lait

gayee.

Lait k naina raat k huay payar k baray main sochnay lagi aur idea

lagaya k koi 3 say 4 month baad us nay iss extreme level ki

ejuculation ki thi. Credit goes to aunty ji. Phir yeh zehn mai aya k

aunty us k baray mai kia sochti hon gi k kesay main saray kapray utar

k un k samnay nangi ho gayee. Phir nazar aunty k nangay badan pay pari

to yehi result lia k nahi aunty nay kia sochna hay wo bhi to poori

nangi hain us k samnay.

Sochtay sochtay usay neend aa gayee. Dobara ankh khuli to daikha aunty

bed pay nahi thien aur kamra sooraj ki roshni say roshan hoya hua tha.

Subha k 8 baj rahay thay. Naina fauran bed say uthi aur washroom main

daikha aunty nahi thien, then tv lounge, wahan bhi aunty nahi thien.

Naina ghabra c gayee k aunty kahan gayeen daurti hui kitchen mai gayee

magar wahan bhi aunty na dikhien. Kitchen mai say hi bahir sehn mai

nazar dali magar wahan pay bhi aunty na nazar ain. Naina aik dum

pareshan ho gayee kiun k gate ka main darwaza bhi khula hua tha.

Daurti hui gate k paas pahonchi to pata chala aunty bahir doodh lay

rahi thien doodh walay say. Naina ka jaisay khoya hua saans wapis aa

gaya.

Aunty andar ain to naina nay unhain kaha k aap nay to mujhay dara hi

dia tha. Aunty nay kaha k main khud gayee thi takay doodh walay ko keh

doon k kal say saath walay ghar mai bhi doodh day jaya karay aur usi

say wohi baat kar rahi thi.

Naina ko aunty nay gila kia k tum nay akailay akailay kapray pehn liay

aur mujhay aisay hi nanga chore dia bed pay. Meri aankh khuli to janab

sahiba sakoon say dress pehn k so rahi thien aur main aisay hi naked.

Naina nay kaha wo aap so rahi thien to aap ko uthana munasib nahi

samja thats why. Khair aunty nay usay ankh mari aur kaha k maza aya

tha? jis pay naina nay sharma k haan mai sir hila dia aur kitchen mai

chali gayee.

Itnay mai phone bell baji. Naina nay daurtay huay phone uthaya to

doosri tarf jimmy tha phone pay.

Jimmy: Hello ji good morning

Naina: Good morning how are you?

Jimmy: Fine. Mom kahan hain?

Naina: I gues hi is in washroom.

Jimmy: Lagta hay mom ka anay ka koi mood nahi hay. Mom ko aap say

payar ho gaya hay shaid? hehehe

Naina: Haan ho gaya hay. Tum kiun jelous ho rahay ho?

Jimmy: Kiun na hoon. Meri jaga mom nay le li.

Naina: Whatttttttttttttttttttt?

Jimmy: What kia meri jaga le li mom nay. Mujhay bhi aap say payar ho gaya hay.

Naina: (Baat badaltay huay) Nashta kar lia?

Jimmy: Haye dil ki baat keh di aap nay. Isi liay to phone kia tha k

mom ka kia scene hay?

Naina: mom to yahan hi breakfast karain gi. Aisay karo tum bhi yahan hi aa jao.

Jimmy: Mmmmmmmmmmmmmmm. Pehlay mom say baat kar loon phir batata hoon.

Naina: Mom say baat bhi yahan hi aa k kar lo. Ok aa jao mai breakfast

bana rahi hoon for you.

Jimmy is say pehlay kuch kehta naina ne phone rakh dia.

Phone rakh k naina kitchen mai chali gayee aur sath hi aunty bhi

kitchen mai aa gayeen. Naina nay aunty ko bata dia us nay jimmy ko bhi

yahin bula lia hay for breakfast jis pay aunty nay narazgi ka izhar

kia k yeh baat thek nahi hay.

Khair jimmy bhi aa gaya aur then sab nay mil k breakfast kia aur then

jimmy aur aunty apnay ghar chalay gaye aur naina ghar k kam kaaj mai

masroof ho gayee.

Ghar k tamam kaam khatam karnay k baad naina nay time daikha dopehr k

12 baj rahay thay. Aaj subha say shaan nay bhi koi phone nahi kia tha.

Naina nay socha shaan ki khair khairiat pata kar li jaye. Phone uthay

aur shaan ko call ki.

Shaan: Hello naina kesi rahi raat akailay?

Naina: Akaili to nahi thi.

Shaan: Shak bhari awaz main. To kaun tha sath tumharay?

Naina: Aunty ko bula lia tha mai nay saath say. Aap ko pata hay

akailay mujh say kesay raat guzarti?

Shaan: Oh plz naina ab raat guzarna seekho akailay coz ab mujhay week

mai aik ya do din night time kaam karna paray ga.

Naina: Ok kar loon gi. Aur aap ki raat kesi guzri?

Shaan: Bhot kaam tha saari raat kartay rahay abhi bhi neend say bura haal hay.

Naina: to ghar aa jain na? Aram kar lain.

Shaan: Nahi ab chuti kar k hi aaon ga aik he dafa. Kuch mangwana hay

bazar say to mujhay sms kar daina main laita aaon ga.

Naina: Ok Take Care.

Shan: Take care aur phone band.

Naina then tv lounge mai aa gayee aur shaan k baray mai sochnay lagi k

shaan us k saath aisa kiun kar rahay hain? Kia wo khubsoorat nahi hay?

Kia wo sexual kamzore hay? Kia shaan ka us say dil bhar gaya hay? Ya

us larki nay shan ko apnay jaal mai phansa lia hay?

Abhi yehi soch rahi thi k aunty ki call aa gayee k wo bazar tak ja

rahi hain kuch shopping karnay aur if naina jana chahti hay to ready

ho jai. Pehlay to naina nay socha k nahi jati k shaan kia kahain gay

phir yeh soch kar janay ki haami bhar li k shaan ko kaun sa farq parta

hay wo jiay ya maray aur then haan kar di.

Thori dair main dono ready ho kar bazar shoping karnay chali gayeen.

Shoping kartay kartay 2 baj gaye aur naina ko bhook lagnay lagi. Aunty

nay bhi bhook ka izhar kia aur dono aik fast food main lunch karnay

chali gayeen.

Wahan pay dono nay ikhata lunch kia aur lunch kar k jesay hi dono fast

food say bahir aain agay say shaan usi larki k saath fast food k andar

dakhil ho rahay thay. Shaan ki nazar naina pay par gayee aur naina nay

bhi shaan ko daikh lia. Shaan ki shakal say confusion clear dikh rahi

thi kiun k shaan k haath main us larki ka haath tha aur naina nay dono

ko usi position mai daikh lia tha.

Aunty nay naina ka kuch na bolnay ka kaha aur khamoshi say agay chal

diay. Naina ko aik baat to confirm ho gayee k us larki nay naina ko

nahi daikha hua tha warna wo bhi fauran usay pehchan jati. Naina

ghusay say ja k gari mai aunty k saath baith gayee aur ronay lagi.

Aunty nay usay samjhaya k yeh munasib jaga nahi hay. Ghar ja k aram

say baat kar laina shaan say aur gari le kar chal dien. Ghar

pahonchtay hi naina nay ro ro k bura haal kar dia. Aunty nay munasib

nahi samjha un k apas k mamlat mai interfare karna isi liay wo naina k

ghar nahi i.

Naina abhi ro ro k bed pay laiti hi thi k door bell hui. Nain nay

apnay face ko theek kia aur ja k door open kia to hairan ho gayee.

Bahir shaan kharay thay jo k bahot ghusay mai dikh rahay thay.

Darwaza band kartay hi naina pay baras paray. Tumhain sharam nahi aati

meri ijazat k baghair tum bahir kiun nikali? Tumhain kis nay kaha k

tum is tarha fast foods aur bazar mai ghoomti phiro. Tumhain apnay

husband ki izat ka koi khayal nahi hay? Laanat hay aisi wife pay jo

apnay husband ki ghair hazri mai bazaron mai ghoomti hay. Pata nahi

aur kia kia gul khilaye hon gay meri ghair maujoodgi mai.

Is baat pay naina ko sakht ghusa aaaa gaya aur wo shaan pay baras pari

k wo jo larki aap k saath thi wo kia us k saath lunch kar k aap ko

sharam nahi i? Us k saath raat guzar k sharam nahi i? Bus itna hi

kehna tha k shaan nay naina k gaal pay zore ka chanta raseed kar dia

aur ghusay say zore say gate band kar k gari start kar k chalay gaye.

kramashah..........


raj..
Platinum Member
Posts: 3402
Joined: 10 Oct 2014 01:37

Re: Naina-नैना

Unread post by raj.. » 14 Dec 2014 08:18

नैना--पार्ट-20

गतान्क से आगे.......

नैना और शान की लाइफ मे आज फर्स्ट टाइम इतनी बड़ी लड़ाई हुई थी. और वो भी

इतनी कि नैना को शान ने चाँटा तक दे मारा. नैना ने तो रो रो कर बुरा हाल

कर दिया. वो जा भी तो कहीं नही सकती थी. पेरेंट्स इतने दूर थे कि 24

अवर्स का सफ़र था. और उन को बता के परेशान नही करना चाहती थी.

रात के 10 बज चुके थे लेकिन शान अब तक घर वापिस नही आए थे. नैना का

गुस्सा भी थोड़ा ठंडा हो चुका था. नैना ने फोन उठाया और शान को कॉल की.

शान ने नैना का फोन अटेंड नही किया. नैना ने दो दफ़ा और ट्राइ किया तो

शान ने नैना की कॉल कट कर दी. जिस पे नैना को बहोत दुख हुआ कि अपनी वाइफ

की कॉल अटेंड नही कर रहे. थोड़ी देर मे नैना के सेल पे मैसेज आया जिस मे

लिखा था कि वो आज रात भी घर नही आएगे और वो नैना की शकल नही देखना चाहते.

नैना ने गुस्से से फोन सोफे पे फैंका और आ के अपनी किस्मत पे रोने लगी.

काफ़ी देर यौं शान के बिहेववर और फास्ट फुड वाली लड़की के बारे मे सोचने

के बाद उस ने सोचा कि आंटी को क्यो ना बुला लिया जाए क्योकि उसे मालूम था

कि वो आज रात भी अकेली ही होगी. लेकिन फिर यह सोच के अपने आप को ही माना

कर दिया कि नही आंटी क्या सोचेगी. आंटी को तो नही पता ना कि शान घर पे आए

थे और यह सब कुछ कर के गये हैं. फिर सोचने लगी कि आंटी को तो सब कुछ

मालूम है कि मेरे और शान के बीच क्या चल रहा है और आज उन्हों ने अपनी

आँखों से शान को फास्ट फुड मे दैखा था. फिर सोचा कि बुला ही लूँ तो बेहतर

है. उठी और आंटी को फोन करने ही लगी थी कि नैना के सेल पे मैसेज आया.

नैना ने यह सोच के फ़ौरन सेल फोन उठाया कि शान का मैसेज ही होगा. लेकिन

वो मैसेज आंटी का था जिस मे लिखा था कि नैना तुम जाग रही हो? नैना के तो

जैसे मन मे लड्डू फूट पड़ा कि अभी ही सोच रही थी और आंटी का मैसेज आ गया.

और साथ ही नैना के मूँह से निकल पड़ा थिंक ऑफ देविल, देविल ईज़ हियर. और

खुद ही हँसने लगी. फिर सेम यही लिखा मैसेज मे कि आंटी थिंक ऑफ देविल,

देविल ईज़ हियर. हहेहहे आंड यस जाग रही हूँ आंड मिस्सिंग यू. और मैसेज

सेंड कर दिया.

नैना का मैसेज सेंड करना ही था कि लॅंडलाइन फोन पे रिंग हुआ. नैना ने फोन

उठाया तो दूसरी तरफ़ आंटी थी.

आंटी: जी जनाब तो मिस किया जा रहा है हमे?

नैना: जी आंटी. दिल नही लग रहा मेरा.

आंटी: दिल नही लग रहा या जिस्म नही लग रहा बेड पे? हहहे

नैना: आंटी प्ल्ज़ आइ आम सीरीयस. मेरा मूड बहोत सख़्त खराब है.

आंटी: हाए क्या हुआ मूड को?

नैना: क्या आप आ सकती हैं?

आंटी: हाँ आ तो सकती हूँ.

नैना: ओके आओ फिर बताती हूँ.

आंटी: ओके मैं आती हूँ और फोन रख दिया.

सीन चेंज (शान & दट गर्ल)

शान नैना के घर से हो कर सीधा उसी लड़की के घर पे चला गया था. लड़की का

नेम सोना था.

दोस्तो इस सोना का भी भूतकाल जान ले इससे कहानी को समझने मे आसानी होगी

आपका दोस्त राज शर्मा

(फ्लॅशबॅक- बॅकग्राउंड ऑफ सोना)

वो बहोत ही अमीर माँ बाप की लड़की थी और अमीर होने के साथ साथ उसका माइंड

भी काफ़ी ओपन था. सोना के डॅड आउट ऑफ कंट्री होते थे जो कमा कमा कर यहाँ

भैज रहे थे जब कि यहाँ सिर्फ़ सोना उसकी मदर और उस की बड़ी सिस रहते थे.

सोना की बड़ी सिस कोई 36 यियर्ज़ की हों गी और वो डिवोर्स्ड थी. सोना और

शान की मुलाक़ात राह चलते हुई थी जब सोना की कार खराब हो गयी थी और शान

ने उसकी हेल्प की थी गाड़ी को घर तक लाने मे और उसे सेफ्ली घर तक पहुचाने

मे. क्योंकि दट टाइम शी वाज़ टोटली ड्रंक. उस दिन से शान और सोना की

फ्रेंडशिप का सिलसिला शुरू हुआ और जो इतना बढ़ गया कि शान ने अब सोना के

घर रात गुज़ारना भी शुरू कर दी. सोना और उसकी फॅमिली (सिस्टर & मदर) इतने

ओपन माइंडेड थे कि उन्हे शान का उन के घर रहने मे कोई ऐतराज़ ना था.

बल्कि तीनो मिल कर शान के ज़ख़्मो पर नमक डालने का काम करते थे शान के

सामने नैना की बुराइयाँ और सोना की अच्छी आदते गिनवा कर.

(फ्लश फ़वड- शान & सोना)

शान नैना के घर से हो कर सीधा उसी लड़की के घर पे चला गया था. सोना को

आने से पहले ही उस ने कॉल कर दी थी कि मैं आ रहा हूँ. इस लिये सोना शान

को घर पे ही मिली जब कि सोना की सिस और उस की मदर अलहदा अलहदा पार्टीस मे

गयी हुई थी. शान सोना के घर मे काफ़ी गुस्से से दाखिल हुआ. सोना ने ये

देखते ही बोला क्या हुआ माइ स्वीट शानू? क्या नैना से लड़ के आए हो?

शान: हां और क्या सारा मूड खराब कर दिया उस मनहूस ने. और सारा मज़ा खराब

कर दिया आज दोपेहर मे लंच का.

सोना: शान के पास और बॅक शान के राउंड आर्म्ज़ डाल के बोली डोंट वरी माइ

जानू मैं हूँ ना अपनी जान के पास?

शान: यॅ इसी लिये तो तुम्हारे पास चला आया और दोनो चलते चलते जा के सोफे

पे बैठ गये.

शान: आज रख दिया मैं ने ज़ोरे का चांटा उस के मूँह पे कमीनी कहीं की.

सोना: ठीक किया बिल्कुल तुम ने जानू. ऐसा ही करना चाहिये था तुम्हे उस

मनहूस के साथ ऐक तो तुम्हे बच्चा नही दे सकी और अब तुम्हारी सारी खुशियो

पे पानी फेर रही है. (सोना के इस जुमले ने शान के लिये जैसे जलती पे

पेट्रोल का काम किया).अपनी बात पूरी कर के ऐक दम बोली ओह सॉरी जान मैं ने

तुम से पूछा ही नही. क्या लो गे टी, कॉफी, या ड्रिंक?

शान: आंटी और सोनिया (सोना की सिस) कहाँ हैं?

सोना: मोम हों गी किसी पार्टी मे और सोना की फ्रेंड की आज बर्त.डे थी सो

वो वहाँ गयी है. मोम तो शायद वापिस आ जाए बट सोना शायद वापिस ना आए आज

रात.

शान: ओके. देन गिव मी कॉफी. सिर मे दर्द हो रहा है सख़्त.

सोना: ओके और उठ के जाने लगी.

शान: कहाँ जा रही हो?

सोना: कॉफी बनाने.

शान: सब नोकेर कहाँ हैं?

सोना: अरे भाई टाइम तो दैखो रात के 10 बज रहे हैं. नोकेर 9 बजे छुट्टी कर

जाते हैं उस के बाद सब खुद करना पड़ता है.

शान: ओके मैं भी चलता हूँ साथ किचन मे और दोनो किचन मे चले गये.

सोना: शान जानू ऐक बात बोलू?

शान: हां बोलो.

सोना: तुम मेरे लिये क्या क्या कर सकते हो?

शान: कुछ भी.

सोना: कुछ भी?

शान: यप कुछ भी आज़मा के दैख लो.

सोना: इतना कॉन्फिडेन्स है खुद पे?

शान: बिल्कुल है कोई शक?

सोना: नही कोई शक नही.

शान: मुस्कुराते हुए. होना भी नही चाहिये. हहहे

सोना: ओके वक़्त आने पे इम्तिहान लूँगी तुम्हारा और मुस्कुरा के ऐक कप

शान के हाथ मे थमा दिया.

दोनो वॉक करते करते कॉफी के कप साथ लिये फर्स्ट फ्लोर पे टारस मे आ गये.

बाहर बहोत ठंडी हवा चल रही थी.

सोना: शान यू नो आइ लव दिस कूल ब्रीज़. दिल करता है कि बस इस मे खो जाऊ.

अच्छा ऐक बात बोलू?

शान: हां बोलो.

सोना: मैं ज़यादा सेक्सी हूँ या नैना?

शान: यह केसा सवाल है?

सोना: बताओ ना जान मैं ज़यादा सेक्सी हूँ या नैना?

शान: ऑफ्कोवौर्स यू सोना.

सोना: अछा बताओ ना जानू कहाँ कहाँ से सेक्सी हूँ ज़यादा?

शान: ओवर ऑल सेक्सी हो नैना से ज़यादा.

सोना: यार प्ल्ज़ अब यह शरीफों की तरह बिहेव करना छोड़ो. तुम अपने घर पे

नही हो तुम यहाँ हो हमारे घर और यू मस्ट नो दा रूल यहाँ कोई चीज़ सेन्सर

नही होती सब कुछ ओपन. ओके?

शान: ओके बॉस. ओक लेट मी टेल यू. ओके तुम सब से पहले सेक्सी हो ...........

जेसे ही शान कुछ कहने लगा सामने मेन गेट ओपन हुआ और बाहर से ऐक बड़ी

गाड़ी अंदर दाखिल हुई. सेक्यूरिटी गौर्ड़ ने गेट लॉक किया और अपने कॅबिन

मे चला गया.

सोना: मोम आ गयी हैं.

शान: यप आ तो गयी हैं मगर यह साथ लड़का कॉन है?

सोना: अरे हो गा मोम का कोई फ्रेंड. मोम अक्सर जब पार्टीस मे जाती हैं तो

वापिसी पे कोई हॅंडसम लड़का ज़रूर होता है साथ.

आंटी ड्रंक लग रही थी. गाड़ी से बाहर निकली और उस लड़के का हाथ अपने हाथ

मे ले के बेड रूम की तरफ़ चल दी. लड़का आंटी की उमर का हाफ होगा बट बहोत

हेअल्थि लग रहा था.

शान: ही ईज़ गोयिंग इन बेड रूम विथ युवर मोम?

सोना: ओह कॉम ऑन. क्या मोम का दिल नही करता एंजाय करने का? अगर डॅड वहाँ

अमेरिका मे एंजाय कर सकते हैं तो क्या मोम को कोई हक़ नही है?

शान खामोशी से सोना की बाते सुन रहा था और उसे बहोत अजीब लग रहा था यह

सब. उस ने ऐसा कुछ सुना तो हुआ था लैकेन उसे आज प्रॅक्टिकली देखने का भी

पूरा मौक़ा मिल रहा था और काफ़ी हैरान था कि ऐसे भी लोग हैं इस दुनिया मे

जिन के सामने शरम, हया, रिलिजन कोई मीनिंग्स नही रखता. उन्हे कोई शरम फील

नही होती कि बाहर जो सेक्यूरिटी गार्ड है वो क्या सोचता होगा? नोकर भी तो

यह सब देखते हों गे वो क्या सोचते हों गे? क्या इज़्ज़त हो गी इन लॅडीस

की उन की नज़र मे? यह सोच रहा था कि सोना की आवाज़ उस के कान मे पड़ी.

सोना: हेलो जनाब कहाँ खो गये?

शान: ओह सॉरी आइ वाज़ जस्ट थिंकिंग कि .............

सोना: जस्ट थिंकिंग कि?

शान: आइ वाज़ जस्ट थिंकिंग कि यू आर वेरिंग वेरी सेक्सी ड्रेस. और स्माइल कर दी.

सोना: आं हां. वेसे कॉफी ख़तम हो गयी हो तो रूम मे चले?

शान: यआः शुवर.

और दोनो सोना के रूम की तरफ़ जाने लगे. जाते हुए जब दोनो आंटी के रूम के

सामने से गुज़रे तो शान थोड़ी देर रुक के अंदर से आवाज़ सुन.ने लगा. सोना

ने शान को नोटीस कर लिया और बोली अरे मेरी जान क्या लाइव दिखा दूँ? शान

घबरा गया. क्या लाइव दिखा दूं?

सोना: अरे यही मोम का लाइव पॉर्न सीन? हहेहहे

शान: नही इट्स ओके. लेट्स मूव.

सोना: अरे अब रुके हैं तो दैख ही जाते हैं. और सोना ने थोड़ा सा रूम का

दरवाज़ा ओपन कर दिया जो कि लॉक नही था. आंटी को पता था कि घर पे सिर्फ़

मैं और सोना ही हों गे और सोना को तो सब पता है सो लॉक नही किया डोर.

शान ने देखा कि आंटी और वो लड़का दोनो विदाउट शर्ट थे और वो लड़का आंटी

क़ी बड़ी बड़ी चूचियो के ऊपेर शराब डाल के निपल्स सक कर रहा था और आंटी

के हाथ मे भी शराब का ग्लास था.

सोना: अरे यहाँ तो अभी मनो रंजन शुरू ही नही हुआ अभी ट्रेलर चल रहा है.

चलो छोड़ो लेट्स गो टू और रूम और दोनो बेड रूम मे चले गये.

-------------

सीन चेंज (नैना & आंटी)

डोर बेल. नैना ने डोर ओपन किया और आंटी अंदर आ गयीं. नैना ने डोर लॉक

किया और दोनो वॉक करते करे टीवी लाउंज मे आ गयीं.

आंटी: हां बोलो क्यो नही लग रहा दिल और शान कहाँ है?

नैना: वो गुस्से मे घर से चले गये और मैसेज कर दिया कि आज नही आएँगे.

आंटी: यानी वो उसी लौंडिया के पास चला गया हो गा आज फिर.

नैना: यआः मुझे भी यही लगता है.

आंटी: शान का कुछ करना पड़ेगा.

नैना: क्या करना पड़ेगा? आप ने पहले भी कहा था मगर अभी तक कुछ किया ही नही?

आंटी: उसे उस के हाल पे छोड़ दो. देखना वो ऐक ना ऐक दिन ज़रूर लौट के आए

गा और तुम से माफी माँगे गा.

नैना: अरे आप शान को नही जानती, वो जान दे दे गा मगर माफी वाला काम नही

करे गा और वो भी मुझ से. ना भाई ना.

आंटी: अरे मेरी बच्ची तू देखती जा. और फिर दोनो मिल के बाते करने लगी.

क्रमशः..........

naina--paart-20

gataank se aage.......

Naina aur shaan ki life mai aaj first time itni shadeed larai hui thi.

Aur wo bhi itni k naina ko shaan nay chaanta tak day mara. Naina nay

to ro ro kar bura haal kar dia. Wo ja bhi to kahin nahi sakti thi.

Parents itnay door the k 24 hours ka safar tha. aur un ko bata k

perishan nahi karna chahti thi.

Raat k 10 baj chukay thay laiken shaan ab tak ghar wapis nahi aye

thay. Naina ka ghusa bhi thora thanda ho chuka tha. naina phone uthaya

aur shaan ko call ki. Shaan nay naina ka phone attend nahi kia. Naina

nay do dafa aur try kia to shaan nay naina ki call cut kar di. Jis pay

naina ko bahot dukh hua k apni wife ki call attend nahi kar rahay.

Thori dair mai naina k cell pay msg aya jis mai likha tha k wo aaj

raat bhi ghar nahi aain gay aur wo naina ki shakal nahi daikhna

chahtay. Naina nay ghusay say phone sofay pe phainka aur aa k apni

kismat pay ronay lagi.

Kafi dair youn shaan k behavour aur fast food wali larki k baray mai

sochnay k baad us nay socha k aunty ko kiun na bula lia jaye kiun k

usay maloom tha k wo aaj raat bhi akaili hi hogi. Laiken phir yeh soch

k apnay aap ko hi mana kar dia k nahi aunty kia sochain gi. Aunty ko

to nahi pata na k shan ghar pay aye thay aur yeh sab kuch kar k gaye

hain. Phir sochnay lagi k aunty ko to sab kuch maloom hay k meray aur

shaan k beech kia chal raha hay aur aaj unhon nay apni ankhon say

shaan ko fast food mai daikha tha. Phir socha k bula hi loon to behtre

hay. Uthi aur aunty ko phone karnay hi lagi thi k Naina k cell pay sms

aya. Naina nay yeh soch k fauran cell phone uthaya k shaan ka msg hi

hoga. Laiken wo msg aunty ka tha jis mai likha tha k naina tum jaag

rahi ho? Naina k to jaisay mun mai ladu phoot para k abhi hi soch rahi

thi aur aunty ka msg aa gaya. Aur saath hi naina k moon say nikal para

think of devil, devil is here. aur khud hi hansnay lagi. Phir same

yehi likha sms mai k aunty think of devil, devil is here. hehehehe and

yes jaag rahi hoon and missing you. aur msg send kar dia.

Naina ka msg send karna hi tha k landline phone pay ring hua. Naina

nay phone uthaya to doosri tarf aunty thien.

Aunty: Ji janab to miss kia ja raha hay hamain?

Naina: Ji aunty. Dil nahi lag raha mera.

Aunty: Dil nahi lag raha ya jism nahi lag raha bed pay? hehehe

Naina: Aunty plz i am serious. Mera mood bahot sakht kharab hay.

Aunty: Haye kia hua mood ko?

Naina: Kia aap aa sakti hain?

Aunty: Haan aa to sakti hoon.

Naina: Ok ain phir batati hoon.

Aunty: Ok main aati hoon aur phone rakh dia.

Scene Change (Shaan & That Girl)

Shaan naina k ghar say ho kar seedha usi larki k ghar pay chala gaya

tha. Larki ka name sona tha.

(Flashback- Background of Sona)

Wo bahot hi ameer maan baap ki larki thi aur ameer honay k saath saath

uska mind bhi kaafi open tha. sona k dad out of country hotay thay jo

kama kama kar yahan bhaij rahay thay jab k yahan sirf Sona uski mother

aur us ki bari sis rehtay thay. Sona ki bari sis koi 36 years ki hon

gi aur wo divorced thien. Sona aur shaan ki mulaqat raah chaltay hui

thi jab sona ki car kharab ho gayee thi aur shaan nay uski help ki thi

gari ko ghar tak lanay main aur usay safely ghar tak pahonchany main.

Kiun k that time she was totally drunk. Us din say shaan aur Sona ki

friendship ka silsila shuru hua aur jo itna barh gaya k shaan nay ab

sona k ghar raat guzarna bhi shuru kar di. Sona aur uski family

(Sister & Mother) itnay open minded thay k unhay shaan ka un k ghar

rehnay mai koi aitraaz na tha. Balkay teeno mil kar shaan k zakhmo par

namak dalnay ka kaam kartay thay shaan k samnay naina ki buraiaan aur

sona ki achi aad.tain ginwa kar.

(Flash Fwd- Shaan & Sona)

Shaan naina k ghar say ho kar seedha usi larki k ghar pay chala gaya

tha. Sona ko aanay say pehlay hi us nay call kar di thi k main aa raha

hoon. Is liay Sona shaan ko ghar pay hi mili jab k Sona ki sis aur us

ki mother alehda alehda parties mai gayee huien thien. Shaan Sona k

ghar mai kafi ghusay say daakhil hua. Sona ne ye daikhtay hi bola kia

hua my sweet shaanu? Kia naina say lar k aye ho?

Shaan: Haan aur kia sara mood kharab kar dia us manhoos nay. aur sara

maza kharab kar dia aaj dopehr mai lunch ka.

Sona: Shaan k paas aur back shaan k round armz daal k boli dont worry

my janu main hoon na apni jaan k paas?

Shaan: Yeah isi liay to tumharay paas chala aya aur dono chaltay

chaltay ja k sofay pay baith gaye.

Shaan: Aaj rakh dia main nay zore ka chanta us k moon pay Kameeni kahin ki.

Sona: Theek kia bilkul tum nay janu. Aisa hi karna chahiay tha tumhain

us manhoos k saath aik to tumhain bacha nahi dai saki aur ab tumhari

saari khushion pay paani phair rahi hay. (Sona k is jumlay nay shaan k

liay jaisay jalti pay petrol ka kaam kia).Apni baat poori kar k aik

dum boli oh sorry jaan main nay tum say poocha hi nahi. Kia lo gay

tea, coffee, ya drink?

Shaan: Aunty aur Sonia (Sona ki sis) kahan hain?

Sona: Mom hon gi kisi party main aur Sona ki friend ki aaj b.day thi

so wo wahan gayee hay. Mom to shaid wapis aa jain but Sona shaid wapis

na aye aaj raat.

Shaan: Ok. Then give me Coffee. Sir mai dard ho raha hay sakht.

Sona: Ok aur uth k janay lagi.

Shaan: Kahan ja rahi ho?

Sona: Coffee bananay.

Shaan: Sab noker kahan hain?

Sona: Aray bhai time to daikho raat k 10 baj rahay hain. Noker 9 bajay

chhuti kar jatay hain us k baad sab khud karna parta hay.

Shaan: Ok main bhi chalta hoon saath kitchen main aur dono kitchen

main chalay gaye.

Sona: Shaan janu aik baat bolon?

Shaan: Haan bolo.

Sona: Tum meray liay kia kia kar saktay ho?

Shaan: Kuch bhi.

Sona: Kuch bhi?

Shaan: Yup kuch bhi aazma k daikh lo.

Sona: Itna confidence hay khud pay?

Shaan: Bilkul hay koi shak?

Sona: Nahi koi shak nahi.

Shaan: Muskuratay huay. Hona bhi nahi chahiay. hehehe

Sona: Ok waqt aanay pay imtihaan loon gi tumhara aur muskura k aik cup

shaan k haath mai thama dia.

Dono walk kartay kartay coffee k cup saath liay first floor pay

tarrace mai aa gaye. Bahir bahot thandi hawa chal rahi thi.

Sona: Shaan you know i love this cool breez. Dil karta hay k bus is

main kho jaon. Acha aik baat bolon?

Shaan: Haan bolo.

Sona: Main zayada sexy hoon ya naina?

Shaan: Yeh kesa sawal hay?

Sona: Batao na jaan main zayada sexy hoon ya naina?

Shaan: Offcourse you Sona.

Sona: Acha batao na janu kahan kahan say sexy hoon zayada?

Shaan: Over all sexy ho naina say zayada.

Sona: Yaar plz ab yeh shareefon ki tarah behave karna choro. Tum apnay

ghar pay nahi ho tum yahan ho hamaray ghar aur you must know the rule

yahan koi cheez censor nahi hoti sab kuch open. Ok?

Shaan: Ok boss. Ok let me tell you. Ok tum sab say pehlay sexy ho ...........

Jesay hi shaan kuch kehnay laga samnay main gate open hua aur bahir

say aik bari gari andar dakhil hui. Security Gaurd nay gate lock kia

aur apnay cabin mai chala gaya.

Sona: Mom aa gayee hain.

Shaan: Yup aa to gayee hain magar yeh saath larka kon hay?

Sona: Aray ho ga mom ka koi friend. Mom aksar jab parties mai jati

hain to wapisi pay koi handsome larka zaroor hota hay saath.

Aunty drunk lag rahi thien. Gari say bahir niklien aur us larkay ka

hath apnay haath main lay k bed room ki tarf chal dien. Larka aunty ki

umhar ka half hoga but bahot healthy lag raha tha.

Shaan: He is going in bed room with your mom?

Sona: Oh com on. Kia mom ka dil nahi karta enjoy karnay ka? Agar dad

wahan america mai enjoy kar saktay hain to kia mom ko koi haq nahi

hay?

Shaan khamoshi say sona ki batain sun raha tha aur usay bahot ajeeb

lag raha tha yeh sab. Us nay aisa kuch suna to hua tha laiken usay aaj

practically daikhnay ka bhi poora mauqa mil raha tha aur kaafi hairan

tha k aisay bhi log hain is dunia mai jin k samnay sharam, haya,

religion koi meanings nahi rakhta. Unhain koi sharam feel nahi hoti k

bahir jo security guard hay wo kia sochta hoga? noker bhi to yeh sab

daikhtay hon gay wo kia sochtay hon gay? Kia izat ho gi in ladies ki

un ki nazar main? Yeh soch raha tha k sona ki awaz us k kaan main

pari.

Sona: Hello janab kahan kho gaye?

Shaan: Oh sorry i was just thinking k .............

Sona: Just thinking k?

Shaan: I was just thinking k you are wearing very sexy dress. aur smile kar di.

Sona: Aan haan. Wesay coffee khatam ho gayee ho to room main chalain?

Shaan: Yeah sure.

Aur dono Sona k room ki tarf janay lagay. Jatay huay jab dono aunty k

room k samnay say guzray to shaan thori dair ruk k andar say awaz

sun.nay laga. Sona nay shaan ko notice kar lia aur boli aray meri jaan

kia live dikha doon? Shaan ghabra gaya. Kia live dikha doon?

Sona: Aray yehi Mom ka live porn scene? hehehehe

Shaan: Nahi its ok. Lets move.

Sona: Aray ab rukay hain to daikh hi jatay hain. Aur Sona nay thora sa

room ka darwaza open kar dia jo k lock nahi tha. Aunty ko pata tha k

ghar pay sirf main aur sona hi hon gay aur sona ko to sab pata hay so

lock nahi kia door.

Shaan nay daikha k aunty aur wo larka dono without shirt thay aur wo

larka aunty k baray baray breasts k ooper sharab daal k nipples suck

kar raha tha aur aunty k haath main bhi sharab ka glass tha.

Sona: Aray yahan to abhi mano ranjan shuru hi nahi hua abhi trailer

chal raha hay. Chalo choro lets go to our room aur dono bed room mai

chalay gaye.

-------------

Scene Change (Naina & Aunty)

Door bell. Naina nay door open kia aur aunty andar aa gayeen. Naina

nay door lock kia aur dono walk kartay karay tv lounge main aa gayeen.

Aunty: Haan bolo kiun nahi lag raha dil aur shaan kahan hay?

Naina: Wo ghusay mai ghar say chalay gaye aur msg kar dia k aa nahi ain gay.

Aunty: Yaani wo usi laundia k paas chala gaya ho ga aaj phir.

Naina: Yeah mujhay bhi yehi lagta hay.

Aunty: Shaan ka kuch karna paray ga.

Naina: Kia karna paray ga? Aap nay pehlay bhi kaha tha magar abhi tak

kuch kia hi nahi?

Aunty: Usay us k haal pay chore do. Daikhna wo aik na aik din zaroor

laut k aye ga aur tum say maafi mangay ga.

Naina: Aray aap shaan ko nahi janti, wo jaan day day ga magar maafi

wala kaam nahi karay ga aur wo bhi mujh say. Na bhai na.

Aunty: Aray meri bachi to daikhti ja. Aur phir dono mil k batain karnay lagien.

kramashah..........